एक अभागा प्रधानमंत्री!

के. विक्रम राव आज उस कांग्रेसी प्रधानमंत्री की 101वीं जयंती है जिसका सोनिया गांधी विरोध करती रहीं। जिससे वह नफरत करती थीं। हालांकि मुम्बय्या फिल्मी डायलाग है कि ’प्यार ही … Read More

मोदी का बाल यदि बांका हो जाता तो?

के. विक्रम राव फर्ज कीजिये यदि उच्चतम न्यायालय (शुक्रवार, 24 जून 2022) को पत्रकार तीस्ता सीतलवाड द्वारा पेश श्रीमती जाकिया अहसान जाफरी की याचिका को स्वीकार कर लेता तो? आरोपी … Read More

सवर्ण अफसरशाह बनाम पिछड़ा किसान!

के. विक्रम राव सोनिया-कांग्रेस तथा ममता-कांग्रेस (तृणमूल) और 15 अन्य राजनैतिक दलों के सर्वसम्मत प्रत्याशी यशवन्त सिन्हा को राष्ट्रपति बनने में दुतरफा बाधा आ गयी है। कल से (23 जून … Read More

मुम्बई में पर्दे के पीछे किसकी किरदारी?

के. विक्रम राव आजकल मानवी रुचिवाली खबरें कम दिखतीं हैं। शायद इसीलिये कि सियासत रुखी हो गयी है। वर्ना महाराष्ट्र महाविकास अघाड़ी की त्रिकोणीय सरकार की अंतिम लौ पर पाठकों … Read More

मुखिया पद के लड़ैय्या! सम्पन्न बनाम सर्वहारा!!

के. विक्रम राव राष्ट्रपति चुनाव (18 जुलाई 2022) के मतदान के पूर्व भारत के 1761 सांसदों और 4120 विधायकों को ठीक से समझ लेना चाहिये कि विपक्ष के प्रत्याशी, पूर्व … Read More

इस रुसी संपादक ने यूक्रेन पर हमले के लिये पुतीन को माना जन शत्रु!

के. विक्रम राव मास्को से खबर साया हुयी है आज (18 जून 2022)। यह एवार्ड नीलामी की (भारत वाले ढोंगी वापसी के मुकाबले यह श्रेष्ठतर कदम है)। साठ वर्षीय रुसी … Read More

‘जी, हुजूर!’ सरकार की मुसीबत

डॉ. वेदप्रताप वैदिक मोदी सरकार ने जो नई अग्निपथ योजना घोषित की है, उसके खिलाफ सारे देश में जन-आंदोलन शुरू हो गया है। यह आंदोलन रोजगार के अभिलाषी नौजवानों का … Read More

चाय की चुस्की फीकी पड़ गयी, बेजायका हो गयी!

के. विक्रम राव कंगाली की कगार पर खड़े इस्लामी पाकिस्तान की जनता को अब रोज केवल दो कप चाय से ही गुजारा करना पड़ सकता है। वहां विदेशी मुदा की … Read More

क्यों होता है अवैज्ञानिक तरीके से अनाज का भंडारण

ऋतुपर्ण दवे देश में भरपूर अनाज उग रहा है। सुनने में अच्छा लगता है। विडंबना देखिए इसे सुरक्षित रखा जाना क्या कभी किसी की प्राथमिकता में रहा? ऐसा दिखा नहीं! … Read More

सोशल मीडिया की भी मर्यादा हो

गिरीश्वर मिश्र जीवन जीने की शैली बहुत हद तक उस परिवेश के बीच और इर्द-गिर्द सजती-संवरती है जो उसके लिए जरूरी साजो-सामान और अवसर मुहैया कराता रहता है । वस्तुतः … Read More

इंदिरा गांधी यदि त्यागपत्र दे देतीं तो?

के. विक्रम राव भारतीय इतिहास ने 47 वर्ष पूर्व 12 जून को दो घटनाओं का होना देखा था। दोनों युगांतकारी तथा युगांतरकारी थे। काशीवासी लोहियावादी, (जो सोशलिस्ट कहलाना पसंद करते … Read More

दारा शिकोह अधुना एक दीप स्तंभ है!

के. विक्रम राव तनिक कल्पना कीजिये 363 वर्ष पूर्व उदार इस्लाम यदि महजबी उग्रवाद को हरा देता, समावेशी दारा शिकोह शाहजहां के बाद मुगल बादशाह बन जाता तो? आज के … Read More

नेक मुसलमान की पहल!

के. विक्रम राव कई सेक्युलर, प्रगतिशील तथा जनवादी मुसलमान हैं जिनकी ऐलानिया तौर पर मांग है कि भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा को क्षमा कर दिया जाय। इन इस्लामियों … Read More

मां फिर प्रमुदित हुयी कश्मीर में!

के. विक्रम राव खीर भवानी के कुण्ड का पानी आज काला नहीं हुआ। उज्जवल है। दमकता धवल है। आम मान्यता है कि पानी रंग बदलता है जब कश्मीर घाटी आपदा … Read More

कब बने सत्याग्रही गांधीजी!

के. विक्रम राव आज से 130 वर्ष पूर्व (7 जून 1893) उस सर्द रात को पोरबंदर से करीब बीस हजार किलोमीटर दूर बैरिस्टर एमके गांधी को गोरे अफ्रीकी रेलकर्मी पीटरमारिट्ज … Read More

रहने दो गांधी जी को ही नोटों में

आर.के. सिन्हा राजधानी के संसद मार्ग पर बनी रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) बिल्डिंग के बाहर लगी यक्ष और यक्षिणी की मूर्तियों के पास खड़े होकर बैंक के कुछ मुलाजिम … Read More

मंदिर-मस्जिद साथ-साथ क्यों नहीं?

डॉ. वेदप्रताप वैदिक मुझे खुशी है कि ज्ञानवापी मस्जिद और देश के अन्य हजारों पूजा-स्थलों के बारे में पिछले कुछ दिनों से मैं जो बार-बार लिख रहा हूं, अब उसका … Read More

मंदिर वापस मिले! बस यही हल है!

के. विक्रम राव अपनी प्राकृतिक, परम्परागत हिन्दु दरियादिली के कारण श्री मोहन मधुकरराव भागवतजी चाहते हैं कि ’हर मस्जिद के तले शिवलिंग न ढूंढा जाये।’ राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की … Read More

कीर्तिमान रचा था राष्ट्रपति रेड्डि ने!

के. विक्रम राव भारत के अब तक के 14 राष्ट्रपतियों में आठवें क्रमांक वाले नीलम संजीव रेड्डि परसो (1 जून 2022) अपनी पच्चीसवीं पुण्यतिथि पर ही बिसरा दिये गये। वे … Read More

फिल्म पृथ्वीराज एक शौर्य गाथा!

के. विक्रम राव अन्ततः फिल्म ’सम्राट पृथ्वीराज चौहान’ प्रदर्शित (2 जून 2022) हो गयी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी दर्शकों में थे। लोकभवन सभागार में विशेष शो रहा। अक्षय कुमार भी … Read More

योगी जी बनाम अखिलेश! गैस संयंत्र और इत्र कारखाना!

के. विक्रम राव फुलेल निचोड़ना अथवा गोइठा पाथना। इस मुद्दे पर शास्त्रार्थ था यूपी विधानसभा में कल (31 मई 2022) राज्यपाल के अभिभाषण वाले धन्यवाद प्रस्ताव पर। चर्चा में प्रतिभागी … Read More

राष्ट्र में इस्लामी आतंक नागवार है!

के. विक्रम राव आतंकी सरगना मौलाना मसूद अजहर ने भारतीय मुसलमानों से पुरजोर अपील की है कि यदि ज्ञानवापी मस्जिद तथा मथुरा के शाही ईदगाह पर कोई माफिक अदालती निर्णय … Read More

‘उड़ता पंजाब’ के बाद यह नया ट्रेंड कैसा?

ऋतुपर्ण दवे पंजाब में दिनदहाड़े लोकप्रिय पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद सुरक्षा के तमाम तरह के दावों की पोल खुल गई है। हालांकि हत्याकांड को आपसी गैंगवार … Read More

धुआं-धुआं होती जिंदगी के ऐशट्रे बनने के खतरे!

मुकुंद विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर हर साल सवाल उठते हैं। …और उठते रहेंगे। धुआं-धुआं होती जिंदगी, जलती-बुझती सिगरेट और ऐशट्रे की राख से उठती बदबू सांसों में जहर घोलने … Read More

ड्रोन का बढ़ता बहुआयामी उपयोग

प्रमोद भार्गव ड्रोन देश के लिए बहुआयामी सफलता का उपयोगी उपकरण बनने जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत ड्रोन महोत्सव के उद्घाटन के दौरान ड्रोन उड़ाने के बाद … Read More

सौर हो या पवन, चीन नंबर वन

निशांत क्या आपको पता है दुनिया के किस देश में सौर ऊर्जा उत्पादन की सबसे ज़्यादा क्षमता है? अच्छा क्या आपको पता है दुनिया के किस देश में पवन ऊर्जा … Read More

कितनी उचित है यासिन मलिक को सजा?

के. विक्रम राव स्वतंत्र कश्मीर के लिये मुजाहिद यासिन मलिक को कल (25 मई 2022) उम्र कैद हो गयी। अभियोजन के (सरकारी) वकील नील कमल ने फांसी की सजा मांगी … Read More

समाजवाद क्या राष्ट्रवाद का विरोधी है?

के. विक्रम राव 22 मई 2022 को मैं पटना में था। नारद जयंती पर विश्व संवाद केन्द्र द्वारा मीडिया आयोजन में मुख्य वक्ता था। विषय थाः ’पत्रकारिता का धर्म।’ बड़ा … Read More

जलवायु परिवर्तन से भारत में 30 गुना बढ़ा हीटवेव का खतरा

निशांत भारत और पाकिस्तान में पिछले लंबे समय से चल रही ताप लहर (हीटवेव) की वजह से इंसानी आबादी को बड़े पैमाने पर मुश्किलों का सामना करना पड़ा है और … Read More

शेरे आंध्र थे टी. प्रकाशम

के. विक्रम राव भारत के प्रथम भाषावार प्रदेश आंध्र के पहले मुख्य मंत्री आंध्र केसरी बैरिस्टर टंगटूरि प्रकाशम रहे थे। आज (20 मई 2022) उनकी 65वीं जयंती हैं। जब हैदराबाद … Read More

error: Content is protected !!