Up News : मुख्यमंत्री संभावित दौरे में कर सकते हैं प्रस्तावित पेयजल परियोजना का निरीक्षण

– आईजी व कमिश्नर ने लिया जायजा
बांदा(हि.स.)। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 9 मार्च को बांदा के एक दिवसीय भ्रमण में आ सकते हैं।मुख्यमंत्री के आने की संभावना से प्रशासन की गतिविधियां तेज हो गई हैं। जहां कल प्रशासन के द्वारा जेएन कालेज मैदान का निरीक्षण किया गया था वही आज कमिश्नर व आईजी ने कमासिन क्षेत्र के उस गांव का निरीक्षण किया जहां 1650 करोड़ की लागत से पेयजल योजना शुरू की जा रही है।
कमासिन प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के जनपद में सम्भावित दौरे को लेकर आज मंडल के आयुक्त दिनेश कुमार सिंह ने भारी लाव लश्कर के साथ अचानक कमासिन क्षेत्र के किटहाई पहुचकर कार्य प्रगति की समीक्षा की।  काफिले के साथ क्षेत्र के ग्राम खटान पहुँच कर उस स्थल का निरीक्षण किया जहाँ यमुना नदी से पानी लाकर डैम बनाया जाएगा,यह योजना केंद्र सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी योजनों में से एक है, सोलह सौ पचास करोड़ की लागत से एल एंटी कंपनी के द्वारा कार्य प्रारंभ कराया जा रहा है,।
इस योजना बबेरु अतर्रा व नरैनी तहसील के 371 गांवों के प्रत्येक घर मे नल के द्वारा जल पहुचाया जाएगा,इस कार्य योजना की प्रगति को सम्भवः प्रदेश के मुख्यमंत्री भी देखना चाहते हैं जिनका नौ मार्च को संभावित दौरा हो सकता है। भ्रमण के दौरान जिला अधिकारी आनंद कुमार सिंह भी मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि निरीक्षण के समय मेन सीडब्लूआर का कार्य प्रगति पर पाया गया।इसके बाद मेन इनटैकबेल का निरीक्षण किया गया। 
इंटेकवेल का कार्य भी प्रगति में पाया गया। इस योजना के तहत 41 सीडब्ल्यू आर एवं 116 ओवरहेड टैंक का निर्माण किया जाएगा। 35000 किलोमीटर पाइप लाइन डाली जाएगी।प्रतिदिन 1.5 किलोमीटर विभिन्न साइज की पाइप डाली जा रही है।योजना से 371 ग्राम पंचायतों में  हर नल में पानी देने की व्यवस्था की जाएगी।इस मौके पर उप जिलाधिकारी बबेरू अधिशासी, अभियंता लघु सिंचाई संजय कुमार, सहायक अभियंता प्रमोद कुमार मिश्र एल एण्ड टी कंपनी के प्रतिनिधि सुमेर  रिवाड उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!