UP News : उपजिलाधिकारी के आश्वासन के बाद परिजनों ने किया चारों बच्चों का अंतिम संस्कार

–  एसपी बोले पानी में डूबने से हुई चारों बच्चो की मौत 
ललितपुर (हि. स.)। थाना पूराकलां के ग्राम झांवर के मजरा पतेरा में मंगलवार की शाम तालाब में मिले एक ही परिवार के चार बच्चों के शवों के मामले में परिजनों ने अपने ही रिश्तेदार पर हत्या का आरोप  लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराये जाने की मांग की। मुकदमा दर्ज न करने पर परिजनों ने अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया था, जिसके बाद प्रशासन द्वारा एफआईआर दर्ज किये जाने का आश्वासन दिया गया था तब कहीं चारों बच्चों का दाह संस्कार एक साथ किया गया। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद चारों बच्चों की मौत पानी में डूबने से हुई है। 
जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को थाना पूराकलां की ग्राम पंचायत झांवर के मजरा मतेरा निवासी मुकुन्दी प्रजापति के पुत्र 14 वर्षीय रविन्द, 10 वर्षीय बृजेन्द्र व मुकुन्दी के छोटे भाई संतोष प्रजापति के पुत्र 8 वर्षीय अरविंद व 6 वर्षीय नरेन्द्र के शव गांव के पास स्थित एक तालाब में शाम 6 बजे संदिग्धावस्था में उतराते मिले थे। पुलिस ने सभी शवों का बुधवार को पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिये। दोपहर में 2 बजे जब शव गांव मतेरा पहुंचे तो परिजनों सहित सैकडों ग्रामीणों ने शवों का अंतिम संस्कार करने से इंकार करते हुए कहा कि उनके बच्चों को जहर देकर उनके ही रिश्तेदारों द्वारा मार कर शवों को तालाब में फेंक दिया गया है। इसके चलते पहले रिश्तेदार पर एफआइआर हो, उसके बाद ही अंतिम संस्कार करेगें। परिजनों द्वारा अंतिम संस्कार से इंकार कर देने के बाद उप जिलाधिकारी तालबेहट मुहम्मद कमर व क्षेत्राधिकारी तालबेहट ने परिजनों को आश्वासन दिया गया कि लिखकर दें, जिसके बाद मृतकों के पिता संतोष व मुकन्दी ने अपने चाचा पर चारों बच्चों को जहर देकर मार डालना व तालाब में शव को फेंकने का आरोप लगाते हुए कार्यवाही की मांग को लेकर प्रार्थना पत्र दिया। 
अधिकारियों के एफआईआर दर्ज किये जानेक आश्वासन के बाद परिजन व गामीण माने। इसके बाद चारों बच्चों की चितायें एक साथ अगल-बगल में लगायी गयीं। वहीं मृतक अरविंद, नरेन्द्र के बड़े र्भाी दिव्यांग द्वारा मुखाग्नि दी गयी। इधर, पुलिस अधीक्षक कैप्टन एम.एम.बेग ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद चारों बच्चो ंकी मौत पानी में डूबने से हुई है। तो वहीं दूसरी ओर सीएमओ डा.प्रताप सिंह ने बताया कि चारों बच्चों का पोस्टमार्टम दो सदस्यीय चिकित्सीय दल व वीडियोग्राफी के बीच कराया जायेगा। 

error: Content is protected !!