Gonda News : 200 किमी तक ट्रेन में आया शव, गोण्डा में गया उतारा

कानपुर के पहले ही हो गई थी गोरखपुर जा रहे वृद्ध की ट्रेन में मौत

जानकी शरण द्विवेदी

गोण्डा। झांसी से गोरखपुर जा रहे एक वृद्ध यात्री की शुक्रवार को ट्रेन में ही कानपुर के पहले मौत हो गई। मौत के बाद कोच में बैठे यात्रियों में हड़कंप मच गया। वहां बैठे यात्री दोनों छोर के गेट पर चले गए। बगल में बैठे यात्री ने इसकी सूचना गोरखपुर स्थित वृद्ध के गांव झंगहा को दी। वहां के थानाध्यक्ष ने इसकी सूचना जीआरपी को दी। जीआरपी ने कंट्रोल के जरिए इसकी सूचना कानपुर को दे दी। सूचना के बाद शव को न तो कानपुर उतारा गया और न ही लखनऊ या बाराबंकी में। रेल अधिकारियों के हस्तकक्षेप के बाद गोण्डा में शव को उतारा गया।
झंगहा गांव के रहने वृद्ध के बगल में बैठे इसी गांव के राकेश ने बताया कि वह मुम्बई से गुजरात गए थे और गुजरात से बस मार्ग से झांसी तक आए थे। झांसी में आकर श्रमिक स्पेशल में सवार हुए। बताया कि ट्रेन जैसे ही झांसी से आगे बढ़ी, वृद्ध की तबीयत बिगड़ गई। उनकी सांस फूल रही थी और खांसी भी आ रही थी। अभी ट्रेन कानपुर पहुंचती, उसके पहले ही उनकी मौत हो गई। राकेश ने बताया कि कानपुर से गोरखपुर तक सभी यात्री डरे-सहमे रहे। गोण्डा में जब शव उतारने के लिए ट्रेन रुकी तो कोच के आधे यात्री दूसरे बोगियों में चले गए। जिन्हें दूसरी बोगियों में जगह नहीं मिली, वह शौचालय के पास बैठ गए। ट्रेन साढ़े सात बजे गोरखपुर पहुंची। ट्रेन के आने के बाद यात्रियों को उतार कर अलग कर दिया गया। बाकी दूसरे यात्रियों की स्क्रीनिंग शरू कर दी गई थी। यहां सबसे अधिक मुसीबत उन यात्रियों को खोजना था, जो गोण्डा स्टेशन पर दूसरे बोगियों में चले गए। मृत वृद्ध को कोरोना रिपोर्ट अगर पॉजिटिव हो गई तो गोण्डा में दूसरे कोच में जाने वाले यात्रियों को खोजना प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती होगी। उधर वृद्ध के परिजन झंगहा से स्टेशन पर पहुंच गए थे और अफसरों से किसी तरह से शव को गोरखपुर मंगाने की गुजारिश कर रहे थे। संक्रमण के संदेह में कोच को गोरखपुर में काटकर अलग कर दिया गया। अब इस कोच को पूरी तरह से सैनीटाइज करने के बाद ही संचलन में लाया जाएगा। जीआरपी इंस्पेक्टर आनन्द सिंह ने बताया कि झांसी से गोरखपुर आ रही श्रमिक स्पेशल से एक यात्री की मौत की सूचना मिली थी। कंट्रोल के जरिए दूसरे स्टेशनों पर संदेश भेजवा दिया गया था। शव को गोंडा में उतारा लिया गया था। कोच में बैठे सभी यात्रियों को गोरखपुर में अलग कर जांच कराई गई।
यह भी पढें : बिजली उपभोक्ताओं को देना होगा केवाईसी



HINDUSTAN DAILY NEWS IS ON PLAYSTORE NOW! PLEASE DOWNLOAD

Hindustan Daily News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।