Gonda News : जन जीवन सामान्य बनाने को प्रयासरत है योगी सरकार

सरकारी कार्यालयों को खोलने के सम्बंध में संशोधित राजाज्ञा जारी

जानकी शरण द्विवेदी

गोण्डा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नारे ‘जान भी, जहान भी’ पर अमल करते हुए यूपी की योगी सरकार ने लॉकडाउन-4.0 में धीरे-धीरे चीजों को पटरी पर लाने का काम शुरू कर दिया है। सरकारी दफ्तरों के कामकाज को और गति देने के लिए अब 50 फीसदी कर्मचारियों को ड्यूटी पर बुलाने का फैसला किया गया है। आधे कर्मचारी एक दिन आएंगे और आधे दूसरे दिन। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारियों को तीन शिफ्टों में बुलाया जाएगा। पहली शिफ्ट प्रातः 9 से शाम 5 बजे, दूसरी शिफ्ट प्रातः 10 से शाम 6 बजे और तीसरी शिफ्ट 11 से शाम 7 बजे तक होगी। सोमवार को ईद की छुट्टी है। मंगलवार से प्रदेश के सभी सरकारी दफ्तरों में नई व्यवस्था लागू हो जाएगी। इस सम्बंध में राज्य के अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंहल ने शनिवार को राजाज्ञा जारी कर दिया।
जिलाधिकारी डा. नितिन बंसल ने बताया कि राजाज्ञा के अनुसार, प्रदेश भर के सरकारी कार्यालयों को चलाने की व्यवस्था नए सिरे से तय कर दी है। प्रदेश के सभी विभागाध्यक्ष व कार्यालयाध्यक्ष ऑफिस खोलने की व्यवस्था करेंगे। इसके साथ ही स्वयं ऑफिस में रहेंगे। कार्यालय में प्रत्येक कार्य दिवस 50 फीसदी कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित कराएंगे। इसके लिए विभागाध्यक्ष व कार्यालयाध्यक्षों के स्तर पर आवश्कता का निर्धारण करते हुए रोस्टर तय किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ऑफिसों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए रोस्टर के हिसाब से कर्मियों को बुलाया जाएगा। अल्टरनेट दिवस में कर्मचारियों को कार्यालय बुलाया जाएगा। इसके साथ ही यह भी ध्यान रखा जाएगा कि शासकीय काम में किसी तरह का कोई व्यवधान न आने पाए। कार्य अवधि में सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य सुरक्षात्मक उपयोगों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। प्रत्येक कर्मचारी अपने मोबाइल में यथासंभव आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कर उसका उपयोग करेंगे। रोस्टर के अनुसार घर से काम करने वाले सरकारी कर्मी इस अवधि में अपने मोबाइल व इलेक्ट्रॉनिक साधनों के माध्यम से कार्यालय के संपर्क में रहेंगे। उन्हें जरूरत पड़ने पर कार्यालय बुलाया जा सकता है। राज्य भर के सभी अधीनस्थ कार्यालयों, स्थानीय निकायों और निगमों आदि के लिए भी इसी प्रकार से व्यवस्था की जाएगी। जिलाधिकारी ने बताया कि सभी कार्यालयाध्यक्षों को राजाज्ञा का अनुपालन कराने का निर्देश दिया गया है।
यह भी पढ़ें : बदलना होगा कोरोना से लड़ने का ढंग, अभी जाएगा नहीं


Hindustan Daily News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।