Gonda : डीएम ने समाधान दिवस में सुनी फरियाद

155 प्रार्थना पत्रों में 06 का मौके पर ही हुआ निस्तारण

संवाददाता

गोंडा। शासन की मंशानुरूप जन सामान्य की शिकायतों एवं समस्याओं का एक ही स्थल पर निस्तारण कराने के उद्देश्य से जनपद के समस्त तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। तहसील मनकापुर में डीएम ने आये हुये फरियादियों की समस्याओं को सुना तथा शिकायतों का त्वरित एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने हेतु सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को प्रेषित किया गया। तहसील मनकापुर में कुल 155 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें 06 प्रार्थना पत्र का मौके पर ही निस्तारण हुआ। शेष प्रार्थना पत्रों को निर्धारित समय सीमा के अन्तर्गत गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के लिए सम्बंधित विभाग को भेज दिया गया। डीएम ने निर्देश दिया कि शिकायतों का निस्तारण कर समय से आख्या तहसील में उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि अवैध अतिक्रमण के मामले में पुलिस फोर्स के साथ मौके पर जाकर निस्तारित कराना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि तालाब, जमीन की पैमाइश, अवैध कब्जा, चकरोड, नाली, अवैध अतिक्रमण आदि को पुलिस फोर्स के साथ हटवाने का कार्य करें। शिकायतकर्ताओं को मौके पर बुलाएं। उसके आने पर लिखित रूप से उल्लेख करें और निस्तारण के प्रकरण का फोटोग्राफी/वीडियोग्राफी भी करें। समाधान दिवस में प्राप्त हुए शिकायतों का निस्तारण मौके पर जाकर पूरी गुणवत्ता के साथ करें अन्यथा संबंधित विभाग के अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर प्रभागीय वनाधिकारी पंकज कुमार शुक्ल, अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. रश्मि वर्मा, उप जिलाधिकारी मनकापुर आकाश सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी मनकापुर, तहसीलदार पैगाम हैदर, नायब तहसीलदार अमित यादव, परियोजना निदेशक डीआरडीए चन्द्रशेखर, उप निदेशक कृषि, जिला पंचायत राज अधिकारी लाल जी दूबे, जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश चौधरी, जिला कार्यक्रम अधिकारी धर्मेंद्र गौतम, जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार, प्रभारी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी कृष्ण गोपाल पांडेय, थानाध्यक्ष मनकापुर, छपिया, खोड़ारे, सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!