Gonda – जानें, लॉक डाउन में क्या होगा, क्या नहीं

जानकी शरण द्विवेदी
गोण्डा। उत्तर प्रदेश सरकार ने गुरुवार से सोमवार तक लॉक डाउन का ऐलान किया है। इसके लिए शासन ने गाइड लाइन भी जारी कर दी है। इस क्रम में डीएम मार्कण्डेय शाही ने जिले में होने वाले कार्यक्रमों और समारोहों समेत विस्तृत गाइड लाइन जारी करते हुए मातहत अधिकारियों को पालन करने का निर्देश दिया है।

पढ़ें क्या है डीएम का निर्देश :

1 – जनपद के प्रत्येक नगरीय / ग्रामीण क्षेत्र के हर कोने में मास्क की अनिवार्यता सुनि करायी जायेगी । इसका अनुपालन न करने पर पहली बार रू 1000 तथा दूसरी बार अधिकतम रू 10000 तक जुर्माना किया जायेगा । मास्क की अनिवार्यता सुनिश्चित करने का सीधा उत्तरदायित्व सम्बन्धित थाने के थाना प्रभारी का होगा । इसके अतिरिक्त पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा स्वयं प्रतिदिन मुख्य मार्गो , चौराहों एवं बाजार आदि का निरीक्षण कर मास्क की अनिवार्यता सुनिश्चित की जायेगी ।

2 – वर्तमान में कोविड -19 महामारी के प्रभावी नियत्रण / रोकथाम के सम्बन्ध में रात्रि में आवागमन नियंत्रित करने के उद्देश्य से रात्रि 08:00 बजे से अगली प्रातः 07:00 बजे तक रात्रि निषेधाज्ञा लागू है , इस सम्बन्ध में कोरोना कर्फ्यू प्रभावी अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय तथा पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा स्वयं भी चेकिंग की जाय व सभी कंटेनमेंट जोन में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करायी जाय ।

3 – कोविड -19 महामारी के प्रभावी नियंत्रण हेतु समस्त प्रकार के धार्मिक कार्यक्रमों को घर के अन्दर ही मनाने हेतु जनसामान्य को प्रेरित किया जाय ।

4 – Continuous Process Industry को चलाने की अनुमति के साथ – साथ साप्ताहिक बंदी होने वाले उद्योगों को छोड़कर कोविङ -19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए शेष उद्योगों विशेष रूप से Pharmaceutical , अन्य उद्योगों जैसे कि दवा , सैनिटाइजर बनाने वाले उद्योगों को चलाने की भी अनुमति होगी । कार्मिकों / श्रमिकों को तदनुसार आने – जाने की अनुमति होगी ।

5 – पूर्व निर्गत आदेशों के अनुरूप कोविड -19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए सभी शादी के समारोह में बंद स्थानों में 50 व्यक्तियों के प्रतिबंध के साथ एवं खुले स्थानों पर 100 व्यक्तियों के प्रतिबंध के साथ मास्क , सामाजिक दूरी और सैनिटाइजर के उपयोग एवं कोविड -19 प्रोटोकॉल के अनुसार अन्य सावधानियों के साथ अनुमति होगी ।

6 – पूर्व निर्धारित परीक्षाओं हेतु कोविड -19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए परीक्षा की अनुमति होगी । परीक्षार्थियों और उम्मीदवारों का आई 0 डी 0 कार्ड पास के तौर पर मान्य होगा ।

7 – कोविड -19 प्रोटोकॉल का अनुपालन कराते हुए सार्वजनिक परिवहन को विशेष रूप से राज्य परिवहन की बसों में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चलने की अनुमति होगी ।

8 – अंतिम संस्कार के लिए अधिकतम् 20 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति होगी ।

9 – प्रेस प्रिंट / इलेक्ट्रानिक मीडिया को पास के आधार पर अनुमति होगी ।

10 – जनपद के सरकारी / निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की सप्लाई हेतु जनपद के ड्रग इंस्पेक्टर अपने स्तर से समस्त कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे और इसकी सूचना खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के कन्ट्रोल रूम सहित गृह विभाग के कन्ट्रोल रूम सहित जनपद स्थित एकीकृत कोविड कन्ट्रोल एण्ड कमाण्ड सेन्टर में नियमित रूप से दी जायेगी ।

11 – जनपद में प्रत्येक नगर निकाय सहित ग्राम पंचायतों द्वारा अग्निशमन विभाग से समन्वय स्थापित कर फॉगिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी ।

12 – उ 0 प्र 0 राज्य सड़क परिवहन निगम के माध्यम से प्रदेश के बाहर कोई भी बस नहीं भेजी जायेगी , जिससे कि संक्रमण पर प्रभावी कार्यवाही की जा सके । बसों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो व सेनेटाइजर का प्रयोग एवं मास्क का प्रयोग अनिवार्य रहेगा ।

13 – आवश्यक दवा / सजिर्कल की दुकान खुली रहेंगी । उद्योग पूर्व आदेशों के अन्तर्गत खुले रहेंगे । केवल दैनिक उपयोग की दुकान जैसे सब्जी / फल / दूध / किराना इत्यादि की दुकानों को छोड़कर शेष दुकानें बन्द रहेंगी । सब्जी मण्डी / फल मण्डी में भी सोशल डिस्टेसिंग का पालन व मारक / ग्लव्स व सेनेटाइजर के उपयोग की अनिवार्यता रहेगी ।

14-05 मई , 2021 से ग्रामों में कोरोना के लक्षणयुक्त व्यक्तियों की पहचान एवं लाइन लिस्टिंग का कार्य मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा किया जायेगा एवं कोविड की दवाई ( मेडिकल किट ) भी वितरित की जायेगी । लक्षणयुक्त व्यक्त्तियों की पहचान के पश्चात उनकी टेस्टिंग की जायेगी । इस विशेष अभियान की समीक्षा अधोहस्ताक्षरी द्वारा प्रतिदिन की जायेगी ।

15 – पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक प्रयोग कर कोरोना से बचाव के प्रति जागरूकता के संदेश प्रसारित किये जायेंगे । 16 – हाई रिस्क कैटेगरी यथा -60 वर्ष से ऊपर अथवा 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे अथवा गर्भवती महिलायें एवं एक से अधिक बीमारी से ग्रसित अर्थात कम इम्यूनिटी के लोग बाहर न जायें । सामान्य जन से अपील है कि अनावश्यक बाहर न निकलें एवं यदि निकले तो मास्क अनिवार्य रूप से पहन कर ही निकलें ।

17 – टीकाकरण का अभियान जनपद में यथावत चलता रहेगा , परन्तु सोशल डिस्टेंसिंग व दो गज की दूरी व मास्क की अनिवार्यता टीकाकरण के समय आवश्यक होगी ।

18 – निगरानी समितियों के माध्यम से ग्राम पंचायतों में क्वारन्टाइन सेन्टर की स्थापना की जाय एवं जो भी व्यक्ति ग्राम के बाहर से आ रहे हैं . यदि होम क्वारन्टाइन की घर में जगह नहीं है तो क्वारन्टाइन सेन्टर में रखे जायेंगे ।

19 – कंटेनमेंट जोन में आवश्यक सेवाओं के अतिरिक्त अन्य सभी कार्य सख्ती से बाधित रखे जायेंगे ।

20 – प्रत्येक शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में फॉगिंग व से सेनेटाइजेशन का कार्य प्रतिदिन किया जायेगा ।

21 – बीज व खाद की दुकाने , कोटे की उचित दर की दुकान व गेंहू क्रय केन्द्र भी खुले रहेंगे ।

22 औद्योगिक गतिविधियाँ , मेडिकल / आवश्यक सेवाओं तथा वस्तुओं की आपूर्ति व आवश्यक वस्तुओं का परिवहन , मेडिकल व स्वास्थ्य तथा औद्योगिक इकाइयों में उपस्थिति तथा उद्योगों सम्बन्धी कार्यो , ई – कामर्स आपरेशन्स , आपात चिकित्सा स्थिति वाले व्यक्ति तथा दूरसंचार सेवायें , डाक सेवा , प्रिन्ट व इलेक्ट्रानिक मीडिया तथा इण्टरनेट सेवा से जुड़े व्यक्तियों को शासन के पत्र संख्या -792 / 2021 सीएक्स -3 , दिनांक 04 मई , 2021 के अन्तर्गत ई – पास से छूट प्रदान की गयी है ।

error: Content is protected !!