हिन्दू महासभा ने स्वामी प्रसाद मौर्या के खिलाफ की पुलिस में की शिकायत

– रामचरित मानस पर विवादित बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने जताई आपत्ति

लखनऊ (हि.स.)। अखिल भारत हिन्दू महासभा ने सोमवार को हजरतगंज कोतवाली में रामचरित मानस को लेकर विवादित टिप्पणी करने वाले सपा नेता और पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या के खिलाफ शिकायती पत्र देकर उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की मांग की है। हिन्दू महासभा ने कहा कि पुलिस उन्हें तत्काल गिरफ्तार करें।

हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी के नेतृत्व में राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी, प्रदेश प्रवक्ता बाबा महादेव एवं साधू संत सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता हजरतगंज कोतवाली पहुंचे। स्वामी प्रसाद मौर्या के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और एफआईआर दर्ज कर तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। शिकायती पत्र देने के बाद वहां मौजूद मीडियाकर्मियों से बात करते हुये हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने कहा कि जिस तरह से स्वामी प्रसाद मौर्या ने हिन्दू ग्रंथ रामचरितमानस को लेकर विवादित बयान दिया है। इस बयान से हिन्दुओं की आस्थाओं को ठेस पहुंची है। इसलिए पुलिस मुकदमा दर्ज कर उनकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाए।

राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी और प्रदेश प्रवक्ता बाबा महादेव ने कहा कि जिस तरह से पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने रामचरितमानस को विवादित बयान दिया है इससे 100 करोड़ हिन्दुओं को ठेस पहुंची है। इसलिए हम लोग इसका पूरी तरह से विरोध कर रहे हैं। शिशिर ने कहा कि अगर पुलिस ने स्वामी प्रसाद मौर्या की गिरफ्तारी नहीं की तो हम सभी लोग विरोध प्रदर्शन करेंगे।

स्वामी प्रसाद मौर्य का एक बयान सामने आया था, जिसमें उन्होंने कहा कि रामचरितमानस में शूद्रों का अपमान किया गया। इसलिए ऐसी पुस्तकों से इन दोहों चौपाइयों को हटाना चाहिए या फिर इन्हें प्रतिबंधित करना चाहिए।

दीपक

error: Content is protected !!