-स्वर्ण पदक मुकाबले में घबराया हुआ था : दीपक पुनिया

बर्मिंघम (हि.स.)। राष्ट्रमंडल खेल 2022 में स्वर्ण पदक जीतने के बाद, भारतीय पहलवान दीपक पुनिया ने कहा कि वह खिताबी मुकाबले में घबराए हुए थे, क्योंकि 5 अगस्त, 2021 को ओलंपिक में कांस्य पदक मैच हारे थे और शुक्रवार को भी वही तारीख थी।

दीपक ने पुरुषों के फ्रीस्टाइल 86 किग्रा वर्ग में 2010 और 2018 के सीडब्ल्यूजी स्वर्ण पदक विजेता पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम बट को हराकर स्वर्ण पदक जीता।

उन्होंने कहा, “मैं उत्साहित हूं। मैंने अपने खेल पर ध्यान केंद्रित किया और अपना लक्ष्य हासिल किया। जब राष्ट्रगान बजाया गया तो मेरे लिए यह एक गर्व का क्षण था। मैं थोड़ा घबराया हुआ था क्योंकि 5 अगस्त, 2021 को, मैं ओलंपिक में कांस्य पदक हारा था और यहां भी वही तारीख थी।”

दीपक ने स्वर्ण पदक मैच 3-0 से जीता। भारतीय पहलवान ने पहले पीरियड में 2-0 की बढ़त ले ली और सारा दबाव आखिरी तीन मिनट में पाकिस्तान के पहलवान पर था।

सुनील

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!