विराट की टीम के लिए कब्रगाह बनी थी पुणे की पिच

105 व 107 पर सिमटने के बाद मिली थी 333 रन से हार

ख्ेाल डेस्क
नई दिल्ली। टीम इंडिया व साउथ अफ्रीका के बीच गुरुवार से पुणे में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच खेला जाएगा। ये पहला मौका है जब दोनों टीमें इस मैदान पर आमने-सामने होंगे। इससे पहले पुणे में पहली बार जो टेस्ट मैच खेला गया था उसमें टीम इंडिया का सामना ऑस्ट्रेलिया के साथ साल 2017 में हुआ था। इस मैच में विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को बुरी तरह से हार मिली थी। ये मैच सिर्फ तीन दिन में ही खत्म हो गया था।
पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में पहला टेस्ट मैच भारत व ऑस्ट्रेलिया के बीच 23 फरवरी 2017 से शुरु हुआ था जो सिर्फ तीन दिन तक ही चला था। इस मैच में कंगारू टीम ने भारत का बुरा हाल किया था। इस मुकाबले में विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने पहली पारी में 105 रन जबकि दूसरी पारी में 107 रन बनाए थे। वहीं कंगारू टीम ने पहली पारी में 260 और दूसरी पारी में 285 रन बनाकर इस मैच में भारत पर 333 रन से बड़ी जीत दर्ज की थी। हालांकि इस पिच का काफी खराब रेटिंग मिली थी और इसे टेस्ट मैच के लिए सही नहीं बताया गया था।
विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम को अपनी धरती पर एकमात्र टेस्ट मैच में जो हार मिली थी वो पुणे टेस्ट मैच ही था। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को अपनी धरती पर अब तक सिर्फ एक ही टेस्ट मैच में हार का सामना करना पड़ा है। साउथ अफ्रीका के खिलाफ विराट कोहली ने अब तक 8 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है जिसमें उन्हें 5 में जीत मिली है जबकि दो में हार का सामना करना पड़ा है। वहीं कप्तान के दौर पर विराट ने अब तक कुल 49 मैचों में कप्तानी की है जिसमें उन्होंने 29 टेस्ट मैचों में जीत दर्ज की है।


Hindustan Daily News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।