लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज और गोरखपुर में बरतें विशेष सतर्कता-योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर रविवार को एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि इंटीग्रेटेड कमाण्ड ऐण्ड कन्ट्रोल सेन्टर की कोविड संक्रमण के प्रसार को रोकने तथा इससे बचाव व उपचार में महत्वपूर्ण भूमिका है।
उन्होंने कहा कि सभी जनपदों में इनकी सेवाओं को और बेहतर बनाते हुए संचालित किया जाए। उन्होंने इसके लिए मुख्य सचिव को समन्वय स्थापित किए जाने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री ने कोरोना के लिए आईसीयू के बेड बढ़ाए जाने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी अस्पतालों में दवाई और ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। जनपद प्रयागराज, कानपुर नगर, लखनऊ और गोरखपुर में विशेष सतर्कता अपनाए जाने की आवश्यकता है। इन जनपदों में कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग पर जोर दिया जाए।
मुख्यमंत्री ने पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से कोरोना तथा यातायात के नियमों के सम्बन्ध में लोगों को व्यापक रूप से जागरूक किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा​ कि कोविड संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सतर्कता, बचाव व जागरूकता जरूरी है। इसके लिए प्रमुख स्थानों और चौराहों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम निरन्तर एक्टिव मोड में रहें।
मुख्यमंत्री ने ने कहा कि धान की खरीद 01 अक्टूबर, 2020 से होनी है। इसके मद्देनजर सभी तैयारियां सुनिश्चित कर ली जाएं। धान क्रय केन्द्र सुचारु रूप से संचालित किए जाएं। यह देखा जाए कि किसानों को कोई परेशानी न हो। उन्होंने कृषि उत्पादन आयुक्त को धान क्रय के सम्बन्ध में राइस मिलर्स के साथ बैठक किए जाने के निर्देश दिए।

error: Content is protected !!