मुख्यमंत्री करेंगे आठ दिन में गोरखपुर का तीन बार दौरा, तीन हजार करोड़ की देंगे सौगात

– 27 नवम्बर से चार दिसंबर के बीच संभावित हैं सभी दौरे, हर दौरे पर मिलेगी करोड़ों की सौगात

गोरखपुर (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 27 नवंबर से 04 दिसंबर के बीच तीन बार गोरखपुर दौरे पर रहेंगे। हर दौरे पर विकास कार्यों की सौगात देंगे। जन कल्याणकारी कार्यों को आगे बढ़ाएंगे ही, शिक्षा व संस्कृति के समारोहों से भी जुड़ेंगे। समाज के प्रबुद्ध लोगों से संवाद भी करेंगे। इन दौरों के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा लगभग तीन हजार करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं को गतिमान किया जायेगा। इन दौरों से होने वाले संभावित फायदों पर भी चर्चाएं हो रहीं हैं।

पहला दौरा

मुख्यमंत्री का पहला दौरा 27 नवंबर को होगा। इस दिन वह 474.42 करोड़ रुपये की लागत वाले गोड़धोइया नाला एवं रामगढ़ताल के जीर्णोद्धार तथा नाले के इंटरसेप्शन, डायवर्जन व ट्रीटमेंट के निर्माण से संबंधित परियोजना का शिलान्यास करेंगे। गोरखपुर सीवरेज योजना सी पार्ट-2 की आधारशिला रखेंगे। इसकी लागत 561.34 करोड़ रुपये है। सीएम के हाथों इसी दिन 96.50 करोड़ की लागत वाले जेल बाईपास फोरलेन पर खजांची चौराहे पर फ्लाईओवर का शिलान्यास भी होगा। बासस्थान मार्ग के फोरलेन में चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण कार्य का शिलान्यास भी मुख्यमंत्री करेंगे। इस प्रोजेक्ट की लागत 689.35 करोड़ रुपये है। इन सभी चार विकास परियोजनाओं का शिलान्यास समारोह 27 नवंबर को अपराह्न 04 बजे से वीर बहादुर सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज परिसर में होगा।

मुख्यमंत्री की जनसभा भी होगी। इस दौरे के दूसरे दिन 28 नवंबर को सीएम योगी सुबह 10 बजे चंपा देवी पार्क मैदान में आयोजित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के समारोह में शामिल होंगे। इस समारोह में मुख्यमंत्री नवयुगलों को अपना आशीर्वाद प्रदान करेंगे।

दूसरा दौरा

30 नवंबर को सीएम पुनः गोरखपुर आएंगे। गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) के स्थापना दिवस समारोह में शामिल होंगे। करीब 200 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। प्लास्टिक पार्क, रेडीमेड गारमेंट पार्क तथा फ्लैटेड फैक्ट्री का शिलान्यास भी होगा।

तीसरा दौरा

तीसरे दौर पर मुख्यमंत्री 04 दिसंबर को सुबह 09:30 बजे महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह के शुभारंभ में मौजूद रहेंगे। इस दिन अपराह्न 04 बजे से वे 04 प्रमुख विकास परियोजनाओं की सौगात देंगे। राप्ती नदी में गिरने वाले कटनिया/महेवा नाले के इंटरसेप्शन डायवर्जन एवं ट्रीटमेंट से संबंधित परियोजना का शिलान्यास करेंगे।

इसकी लागत 53.03 करोड़ रुपये है। वह 429.49 करोड़ रुपये की लागत से टीपी नगर चौराहे से देवरिया बाईपास तिराहा और वहां से पैडलेगंज तक सिक्सलेन फ्लाई ओवर के निर्माण व अतिरिक्त फोरलेन द्वारा देवरिया बाईपास रोड को जोड़ने के लिए फ्लाईओवर निर्माण कार्य का भी शिलान्यास करेंगे। गोरखपुर उपमार्ग (देवरिया बाईपास) के फोरलेन में चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण कार्य का शिलान्यास भी होगा। इस परियोजना की लागत 399.24 करोड़ रुपये है। 67.35 करोड़ रुपये की लागत से रामगढ़ताल नौकायन से देवरिया बाईपास तक फोरलेन में चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण कार्य का शिलान्यास भी करेंगे। शिलान्यास के ये सभी कार्य महंत दिग्विजयनाथ स्मृति पार्क में होंगे। शिलान्यास समारोह के साथ ही मुख्यमंत्री यहां प्रबुद्ध सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे। 04 दिसंबर को ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शाम 05 बजे गीता प्रेस में आयोजित गीता जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित होंगे।

आमोद कांत

error: Content is protected !!