महिला दिवस : पत्नी से परेशान पति ने आत्महत्या की ठानी, पुलिस की सक्रियता से बची जान

– यूपी डायल 112 पर दी थी मरने की जानकारी, गंगा में छलांग लगाने से पहले पुलिस ने पकड़ा
कानपुर (हि.स.)। अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस पर जहां महिलाओं को उनके सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया जा रहा है। वहीं कानपुर में एक पति ने अपनी पत्नी से इस कदर परेशान हो गया कि महिला दिवस पर ही आत्महत्या की ठान ली। हालांकि पुलिस को आत्महत्या रोकने की चुनौती देना उसके लिए वरदान साबित हो गया। पुलिस ने सर्विलांस के जरिये गंगा नदी में छलांग लगाने से पहले उसे पकड़ लिया और समझाते हुए परिजनों को सुपुर्द कर दिया। 
कल्याणपुर थाना क्षेत्र के आवास विकास केशवपुरम में रहने वाले अजीत कुमार ने सोमवार को यूपी डायल 112 पर फोन करके पुलिस को सूचना ​दी कि वह मरने जा रहा है, बचा सकते हो तो बचा लो। इसके बाद उसने फोन बंद कर लिया। युवक की इस कॉल पर पीआरवी की टीम सक्रिय हो गयी और फौरन सर्विलांस के जरिये उसकी लोकेशन खोजी गयी। 
सर्विलांस में पता चला कि युवक गंगा बैराज के आस-पास है। गंगा बैराज में लोकेशन मिलते ही पुलिस को आशंका हो गयी कि युवक गंगा नदी में छलांग लगाकर आत्महत्या करने जा रहा है। इस पर गंगा बैराज तैनात पुलिस रिस्पांस व्हीकल (पीआरवी) को तत्काल सतर्क किया गया। इस पर पुलिस को बैराज पर मोटरसाइकिल खड़ी करके जाते एक युवक के हाव-भाव संदिग्ध लगे तो उस तक पहुंचने के लिए आगे बढ़ी। इस बीच युवक बैराज से गंगा नदी में कूदने का प्रयास करने लगा तो पुलिस ने उसे तत्काल पकड़कर जान बचा ली। 
युवक का जवाब सुन चौंक गयी पुलिस
गंगा बैराज पर युवक को पकड़कर पुलिस नवाबगंज थाने ले गयी। पुलिस ने युवक से आत्महत्या करने का कारण पूछा तो उसका जवाब सुनकर पुलिस कर्मी भी सन्न रह गयी। युवक ने बताया कि पत्नी उससे आये दिन झगड़ती रहती है और आत्महत्या की धमकी देती रहती है। इससे परेशान होकर महिला दिवस पर आत्महत्या करने का फैसला लिया और पुलिस को इसलिए जानकारी दी कि पत्नी के खिलाफ कार्रवाई हो सके। 
पुलिस अधीक्षक पश्चिम डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि युवक ने पत्नी पर आरोप लगाया है, परिजनों को बुलाकर उसको मनोवैज्ञानिक ढंग से समझाते हुए घर भेज दिया गया है। एसपी ने बताया कि युवक की जान बचाने वाली पीआरवी टीम को सम्मानित किया जाएगा। 

error: Content is protected !!