भदोही पूजा पंडाल हादसाः वाराणसी में सर्तक जिला प्रशासन, पुलिस कमिश्नर ने पूजा पंडालों का किया निरीक्षण

वाराणसी (हि.स.)। भदोही जिले में दुर्गा पूजा पंडाल हादसा के बाद सोमवार को वाराणसी में जिला प्रशासन सतर्क है। पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने हथुआ मार्केट स्थित प्रीमियर ब्याॅज क्लब के पूजा पंडाल सहित नगर के सभी पूजा पंडालों का औचक निरीक्षण किया और किसी भी अनहोनी से बचाव के प्रबंध की भी जानकारी ली। सीपी ने इस दौरान फायर सेफ्टी ऑडिट पर खासा जोर दिया। पूजा पंडालों में आग लगने की सूचना की मॉक ड्रिल भी कराई गई।

पुलिस कमिश्नर के देखरेख में रिस्पॉन्स टाइम में सुधार करने के उपायों से फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों को ब्रीफ किया गया। पुलिस कमिश्नर ने कहा कि किसी भी दशा में हमें आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना है। कंट्रोल रूम से सूचना मिलते ही हमें घटनास्थल पर त्वरित गति से पहुंचना है। इस दौरान चीफ फायर ऑफिसर अनिमेष सिंह भी मौजूद रहे।

यह है पूजा पंडालों में सुरक्षा के मानक

फायर बिग्रेड के अधिकारियों ने बताया कि दुर्गा पूजा पंडाल में प्रवेश और निकास के द्वार कम से कम आठ फीट चौड़ा होना चाहिए। पंडाल में इमरजेंसी गेट के साथ फायर उपकरण, बालू भरी बाल्टी और पानी पर्याप्त मात्रा में होना चाहिए। बिजली के तार पूजा पंडाल में ऊपर नहीं होने चाहिए।

पंडाल में सिंथेटिक कपड़ों से परहेज करना चाहिए। जबकि पूजा पंडाल में लगे कपड़ों पर अमोनियम सल्फेट, अमोनियम कार्बोनेट, बोरेक्स और बोरिक एसिड का लेप लगाकर फायर प्रूफ बनाया जा सकता है।

श्रीधर

error: Content is protected !!