फाइलेरिया उन्मूलन के लिए नाइट ब्लड सर्वे अभियान शुरू

25 जनवरी तक जिले के विभिन्न शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में चलेगा अभियान

रात्रि 08.30 से 12 बजे तक निर्धारित स्थानों पर 500-500 रक्त पट्टीकाएं की जाएंगी एकत्रित

जानकी शरण द्विवेदी
गोण्डा। फाइलेरिया उन्मूलन के लिए विभाग द्वारा जिले में नाइट ब्लड सर्वे का काम शुरू किया गया है। इसमें चार सेन्टीनल व चार रैण्डम साइट्स चुने गए हैं, जहां टीमें पहुंचकर लोगों की रक्त पट्टिकाएं बनाएंगी। साथ ही लोगों को इसके लिए जागरुक किया जायेगा। यह सर्वे आगामी 25 जनवरी तक चलेगा, जिसमें रोज रात्रि 8.30 बजे से लेकर 12 बजे तक लोगों के खून के नमूने लिए जाएंगे।
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ मधु गैरोला ने बताया कि राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत नाइट ब्लड सर्वे किया जा जायेगा। इसमें चार सेन्टीनल साइट्स तरबगंज सीएचसी के ग्राम बौड़िया खास, रुपईडीह के बिशुनापुर, वजीरगंज के नगवा और गोंडा अर्बन के राजा मोहल्ला में चयनित किये गए हैं। वहीं चार रैण्डम साइट्स के रूप में हलधरमऊ का कमालपुर, कटरा बाजार का दुबहा बाजार, इटियाथोक का नौसहरा तथा गोण्डा अर्बन शामिल हैं। उन्होंने बताया कि चयनित स्थल पर प्रशिक्षित टीमें जाएंगी और आशा कार्यकर्ताओं के सहयोग से लोगों के रक्त के नमूने एकत्रित करेंगी। हर साइट से आगामी 25 जनवरी तक 500-500 लोगों के रक्त के नमूने लेकर यह जांच की जाएगी। सीएमओ ने कहा कि सर्वे अभियान में जिन लोगो को भी दायित्व दिया गया है, वे पूरी इमानदारी के साथ इस अभियान को सम्पादित करें।
जिला फाइलेरिया अधिकारी मुबीन अहमद ने बताया कि सर्वे अभियान के तहत शुक्रवार को शहर के राजा मुहल्ले में शिविर लगाया गया। इस दौरान लगभग 60 लोगों की रक्त पट्टीकाएं बनायीं गयीं। एकत्रित किये गए सैम्पल का जांच कर यह पता लगाया जायेगा कि कितने लोगों में माइक्रो फाइलेरिया का कृमि मौजूद है। उन्होंने कहा कि सर्वे में एकत्रित की जाने वाली स्लाइड मुख्यालय लखनऊ भी भेजी जाएगी, जहां उनकी गहन जांच होगी। माइक्रो फाइलेरिया की पुष्टि होने पर व्यक्ति का इलाज शुरू किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *