नोएडा: पुलिस लापता बच्चे को आठ दिन में नहीं खोज पाई, निर्माणाधीन इमारत में मिली लाश

नोएडा (हि.स.)। दिल्ली से सटे नोएडा के सर्फाबाद गांव से 8 दिनों से लापता एक बच्चे का शव सोमवार को निर्माणाधीन बिल्डिंग में ईंटों के नीचे दबा हुआ मिला है। सूचना मिलने पर सेक्टर 49 पुलिस ने शव को कब्ज में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

 आशंका जताई जा रही है कि बच्चे का अपहरण करके उसकी हत्या कर दी गई और शव को निर्माणाधीन बिल्डिंग में फेंक दिया गया था। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। 
 अपर पुलिस उपायुक्त रणविजय सिंह ने बताया कि मूलरूप से छतरपुर मध्य प्रदेश के रहने वाले राम सुहावल नोएडा के सेक्टर-73 सर्फाबाद गांव में किराए के मकान में रहते हैं और मजदूरी का काम करते हैं। राम सुहावल की पत्नी घरों में सहायिका का काम करती हैं। राम सुहावल ने पुलिस को शिकायत दी थी कि 11 अक्टूबर 2020 की शाम को उनका बेटा 10 वर्षीय पप्पू घर के बाहर साइकिल के टायर से खेल रहा था। इसी दौरान वह संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था। घरवालों ने इधर-उधर काफी तलाश की। लेकिन बच्चे का कोई सुराग नहीं मिला पाया था। इसके बाद परिजनों ने थाना सेक्टर 49 पुलिस से इस मामले की शिकायत की। 
 सोमवार को सूचना मिली कि बच्चे का शव बरामद हुआ है। वहीं मृतक बच्चे का पिता राम सुहावल ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस बच्चे की तलाश को लेकर केवल खानापूर्ति करती रही। पुलिस ने काफी दिनों के बाद इस मामले में मुकदमा दर्ज किया है। फिर बच्चे की तलाश में केवल खानापूर्ति की गई थी। हम अपने बच्चे के तलाश के लिए पुलिस के पास बार बार जाते रहे लेकिन पुलिस ने मेरी एक न सुनी। उल्टा पुलिसकर्मियों ने अच्छे से बात तक नहीं की थी।

error: Content is protected !!