नई दिल्ली में शिक्षक सम्मान समारोह को सम्बोधित करेंगे डीएम बहराइच

श्री अरविन्दो सोसाइटी ने डीएम को भेंट किया ‘सर्टिफिकेट आफ आनर’

जानकी शरण द्विवेदी
गोण्डा। देवीपाटन मण्डल के तीन आकांक्षात्मक जनपदों में से एक बहराइच में ‘शून्य निवेश नवाचार’ के माध्यम से शिक्षा के स्तर में सुधार लाने के लिए जनपद में अग्रणी भूमिका निभाने वाली गैर सरकारी संस्था श्री अरविन्दो सोसाइटी के तत्वावधान में आईआईटी नई दिल्ली में 07 दिवसीय शिक्षक सम्मान समारोह आयोजित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ होंगे। इस सम्मान समारोह को सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर तथा मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री संजय धोत्रे सहित अन्य गणमान्य जनों द्वारा भी सम्बोधित किया जायेगा। सोसाइटी की तरफ से बहराइच के जिलाधिकारी शम्भु कुमार को भी सम्मान समारोह के किसी एक सत्र को सम्बोधित करने के लिए आमंत्रित किया गया है। उल्लेखनीय है कि शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़े आकांक्षात्मक जनपद बहराइच में शून्य निवेश के माध्यम से नये विचारों के साथ शिक्षकों, छात्र-छात्राओं व अभिभावकों को प्रेरित करने के उद््देश्य से संस्था द्वारा ब्लाक संसाधन केन्द्र के स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं। जिसके बहुत सार्थक परिणाम भी सामने आये हैं। जनपद में ‘‘शून्य निवेश नवाचार’’ के माध्यम से शिक्षा के स्तर में श्री अरविन्दो सोसाइटी द्वारा किये जा रहे प्रयासों में जिलाधिकारी शम्भु कुमार द्वारा अत्यन्त सराहनीय सहयोग एवं मार्गदर्शन प्रदान किया गया है। जिसके लिए संस्था की ओर से प्रशिक्षक पंकज कुमार ने कलेक्ट्रेट चैम्बर में जिलाधिकारी से भेंट कर उन्हें ‘सर्टिफिकेट आफ आनर’ तथा शिक्षक सम्मान समारोह के किसी एक सत्र को सम्बोधित करने हेतु निमंत्रण भेंट किया।
इस अवसर प्रशिक्षक पंकज कुमार ने जिलाधिकारी को बताया कि नई दिल्ली में आयोजित होने वाले शिक्षक सम्मान समारोह में देश भर सेे 1000 से अधिक शिक्षकों को आमंत्रित किया गया है। सम्मान समारोह में किसी एक जनपद से सर्वाधिक प्रतिभागियों की बात की जाये तो आकांक्षात्मक जनपद के सर्वाधिक 25 शिक्षकों को सम्मान समारोह में प्रतिभाग करने का अवसर प्राप्त हो रहा है। जनपद से सर्वाधिक शिक्षकों का चयन करने के लिए जिलाधिकारी श्री कुमार ने संस्था को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए आशा व्यक्त की कि इससे जनपद के दूसरे शिक्षक भी प्रेरित होंगे और जनपद में शिक्षा के स्तर में गुणात्मक सुधार आयेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *