दक्षिण कोरियाई जहाज के कैप्टन को आईसीजी ने एयरलिफ्ट करके बचाया

– मरीज को सुरक्षित तट पर लाकर गोवा के एसएमआरसी अस्पताल में भर्ती कराया 
– आईसीजी चेतक हेलीकॉप्टर ने रोगी को सुरक्षित निकालने में निभाई अहम भूमिका 
सुनीत निगम 

नई दिल्ली (हि.स.)। भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने रविवार को दक्षिण कोरियाई जहाज के कैप्टन को गोवा तट के पास अचानक बीमार पड़ने पर एयरलिफ्ट करके बचाया। मरीज को सुरक्षित तट पर लाने के बाद गोवा के एसएमआरसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज शुरू कर दिया गया है।  

दक्षिण कोरियाई ध्वज के नीचे नौकायन करने वाला तेल टैंकर जहाज एमटी ईएलआईएम 03 जून को गुजरात के कांडला बंदरगाह से अपने देश वापस जाने के लिए निकला था। गोवा तट के पास पहुंचने पर जहाज के दक्षिण कोरियाई कप्तान को चिकित्सा की आवश्यकता पड़ने पर मुंबई के समुद्री बचाव समन्वय केंद्र को तड़के 04.30 बजे सूचना मिली। उस समय मार्शल द्वीप ध्वज पोत गोवा के दक्षिण पश्चिम में लगभग 109 समुद्री मील की दूरी पर था। तटरक्षक जिला मुख्यालय गोवा से रोगी को सुरक्षित निकालने के लिए त्वरित परिचालन योजना तैयार की गई और जहाज को गोवा की ओर बढ़ने का निर्देश दिया गया।
योजना के अनुसार रविवार को सुबह ​5.30 बजे आईसीजी का जहाज सी-158 दक्षिण कोरियाई तेल टैंकर जहाज एमटी ईएलआईएम के साथ निरंतर संचार बनाए रखते हुए गोवा से रवाना हुआ। साथ ही मरीज को तेजी से निकालने के लिए कोस्ट गार्ड एयर एन्क्लेव (गोवा) से आईसीजी चेतक हेलीकॉप्टर तैनात किया गया। गोवा से तेजी के साथ समुद्र-वायु समन्वित चिकित्सा निकासी का सफलतापूर्वक संचालन किया। त्वरित और समन्वित बचाव अभियान में तेज मानसूनी हवाओं का सामना करते हुए हेलीकॉप्टर दक्षिण कोरियाई जहाज के ऊपर पहुंचा। एयर क्रू डाइवर की मदद से गंभीर चिकित्सा आपात स्थिति का सामना करने वाले कैप्टन को एयरलिफ्ट किया गया। मरीज को सुरक्षित तट पर लाकर वास्को, गोवा के एसएमआरसी अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है।​

error: Content is protected !!