तीस लाख के गबन के मामले में कोटेदार गिरफ्तार

संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के तहत गबन का मामला

प्रादेशिक डेस्क
बलिया। संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के तहत वर्ष 2002 व 2005 के बीच हुए गबन के मामले में फेफना थाना क्षेत्र के वैना गांव के कोटेदार रामायन गिरि को ईओडब्ल्यू ने वाराणसी में गिरफ्तार कर लिया है। इससे कोटेदारों में हड़कंप मच गया है। श्रम के बदले आनाज योजना के तहत श्रमिकों के देने वाले खाद्यान्न का जनपद स्तर पर गबन हुआ था। इस मामले में जिलास्तरीय अधिकारी, प्रतिनिधि समेत कोटेदारों पर मुकदमा कायम हुआ था। इस मामले की जांच ईओडब्ल्यू वाराणसी की टीम कर रही है। टीम ने कई लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। अभी भी इस मामले में कई लोग टीम के निशाने पर हैं।
आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार ने बताया कि बलिया में काम के बदले आनाज योजना में बड़े पैमाने पर गबन हुआ है। इसमें शामिल लोगों की गिरफ्तारी के लिए कई टीम गठित की गई है। इसके तहत योजना में श्रमिकों का आनाज बाजार में बेच दिया है। इधर गिरफ्तार कोटेदार ने टीम को बताया कि कार्य प्रभारी आदि की मिली भगत से खाद्यान्न खुले बाजार में बेच दिया गया था। इसके कारण श्रमिकों में वितरित नहीं किया जा सका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat