जनवादी सोशलिस्ट पार्टी की रैली में अखिलेश बोले, बाबा मुख्यमंत्री कोई खुशहाली नहीं ला सकते

-रमाबाई पार्क में आयोजित हुई “भाजपा हटाओ, प्रदेश बचाओ, जनवादी जनक्रांति महारैली

लखनऊ(हि.स.)। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों की गतिविधियां काफी तेज हो गयी हैं। आज रमाबाई अम्बेडकर रैली स्थल पर सपा के गठबंधन में शामिल जनवादी सोशलिस्ट पार्टी की “भाजपा हटाओ, प्रदेश बचाओ, जनवादी जनक्रांति महारैली” हुई, जिसमें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मुख्य अतिथि के रूप में शामिल थे। इस महारैली का आयोजन जनक्रांति पार्टी के अध्यक्ष संजय चौहान कर रहे थे। अखिलेश यादव के निशाने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ थे।

महारैली में अखिलेश यादव ने सहयोगी दल के पक्ष में हवा बनाने का प्रयास किया। अखिलेश यादव ने कहा कि बाबा मुख्यमंत्री कोई खुशहाली नहीं ला सकते, वह तो अभी अपने किए हुए शिलान्यास का उद्घाटन नहीं कर पाए हैं। उन्होंने कहा कि जनवादी सोशलिस्ट पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं में बहुत उत्साह है। इसे देखकर तो लगता है कि आने वाले समय में भाजपा का सफाया निश्चित है। भाजपा से हर वर्ग तथा समाज के लोग दुखी हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में इससे पहले भी कई सरकार थीं, लेकिन जनता को इतनी परेशानी किसी सरकार ने नहीं दी है। भाजपा ने जनता को बहुत परेशान किया है। भाजपा ने तो चौहान समाज को धोखा दिया है। जनवादी जनक्रांति महारैली का आयोजन जनवादी सोशलिस्ट पार्टी के मुखिया डॉ. संजय सिंह चौहान ने किया। पार्टी चौहान (लोनिया) समाज का नेतृत्व करती है। पूर्वांचल के कई जिलों में इस समाज का प्रभाव है। जनवादी जनक्रांति महारैली का आयोजन जनवादी सोशलिस्ट पार्टी के मुखिया डॉ. संजय सिंह चौहान ने किया। पार्टी चौहान (लोनिया) समाज का नेतृत्व करती है। पूर्वांचल के कई जिलों में इस समाज का प्रभाव है।

error: Content is protected !!