गोरखपुर : कुर्क होगी ब्लाक प्रमुख सुधीर सिंह की संपत्ति

गोरखपुर (हि.स.)। आपराधिक गतिविधियों में शामिल जिले के पिपरौली ब्लाक प्रमुख सुधीर सिंह की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई शुरू हो गई है। जिले के टॉप 10 बदमाशों की सूची में शामिल माफिया सुधीर सिंह द्वारा अवैध रूप से अर्जित संपत्ति का ब्यौरा तैयार होने के बाद डीएम ने इस संबंध में आदेश जारी किया है।
बताया जा रहा है कि पिपरौली ब्लॉक प्रमुख सुधीर सिंह जिले के आपराधिक माफिया गैंग डी-2 का लीडर है। सहजनवा (गीडा) क्षेत्र के कालेसर निवासी सुधीर सिंह पर कई जिलों के विभिन्न थानों पर 33 आपराधिक मामले दर्ज हैं। सुधीर सहजनवा थाने का हिस्ट्रीशीटर है जिसकी हिस्ट्रीशीट संख्या 01 ए है। शाहपुर, देहात क्षेत्र के सहजनवां व गीडा क्षेत्र में इनकी पत्‍नी और सुधीर सिंह के नाम से 10 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति बताई जा रही है। 
रिपोर्ट आने के बाद जिलाधिकारी ने एचडीएफसी बैंक के अधिकारियों को पत्र लिख सुधीर सिंह की पत्‍नी के खाते से लेनदेन पर रोक लगाने का निर्देश जारी किया है।
यह संपत्ति का ब्यौरातैयार हुई सूची के मुताबिक माफिया सुधीर सिंह के पास आठ मालवाहक कंटेनर, दो चार पहिया गाड़ी हैं। इसके अलावा शाहपुर के एल्‍युमिनियम फैक्‍टी व गीडा के कालेसर में मकान और तीन बीघा जमीन भी है। सुधीर की पत्‍नी अंजू के नाम से एचडीएफसी बैंक में खाता है। माफिया के संपत्ति की सूची तैयार होने के बाद जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन ने आरटीओ, रजिस्‍ट्रार को बिक्रय पर रोक लगाने के आदेश दिए हैं।
यह हुई है कार्रवाई
अंजू के खाते से लेनदेन पर रोक लगाने के लिए एचडीएफसी बैंक अधिकारियों को पत्र भेजा गया है। शाहपुर क्षेत्र स्थित माफिया के मकान का रिसीवर नायब तहसीलदार सदर और कालेसर स्थित मकान, वाहन व जमीन का रिसीवर तहसीलदार सहजनवां को नियुक्‍त किया गया है। डीएम ने सहजनवां, गीडा व शाहपुर थानेदार को माफिया के सभी वाहन को अपने कब्‍जे में लेकर मकान सील करने का आदेश दिया है। 

error: Content is protected !!