गांधी जयंती पर एक लाख से अधिक नल कनेक्शन देकर यूपी ने बनाया रिकार्ड

-योगी सरकार ने 20 दिन में दूसरी बार बनाया एक लाख से अधिक ग्रामीण परिवारों को जलापूर्ति से जोड़ने का रिकॉर्ड

-आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, राजस्थान जैसे कई राज्य गांधी जयंती पर नहीं पार कर पाए 10 हजार का आंकड़ा

-बुलंदशहर, शाहजहांपुर, मिर्जापुर, वाराणसी, गोरखपुर में हजारों किसानों और गरीबों के घर शुरू हुई पानी की सप्लाई

लखनऊ/नई दिल्ली (हि.स.)। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के जन्मदिन पर योगी सरकार ने एक लाख से अधिक ग्रामीण परिवारों को नल से स्वच्छ पेयजल का तोहफा दिया।

अकेले यूपी ने इस दिन एक लाख सात हजार 774 गरीब परिवारों तक नल कनेक्शन देकर देश में इतिहास रचा। यह 20 दिन में दूसरा मौका है, जब यूपी ने फिर से यह उपलब्धि हासिल की। आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और राजस्थान जैसे कई राज्य दो अक्टूबर को 10 हजार का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाए। हालांकि गांधी जयंती के दिन देश में कुल एक लाख 34 हजार 968 नल कनेक्शन किए गए। उत्तर प्रदेश को नंबर एक बनाने में बुलंदशहर, शाहजहांपुर, मिर्जापुर, वाराणसी, गोरखपुर जैसे जिलों ने सर्वाधिक घरों तक नल कनेक्शन पहुंचाकर बड़ा योगदान दिया है।

बिहार और पंजाब में एक भी कनेक्शन नहीं हुए

गांधी जयंती पर तमिलनाडु ने 10064, आंध्र प्रदेश ने 3121, महाराष्ट्र ने 2954, पश्चिम बंगाल ने 2159, राजस्थान ने 2027, छत्तीसगढ़ ने 1517, ओडिशा ने 1439, कर्नाटक ने 1422, मध्य प्रदेश ने 696, झारखंड ने 627 और उत्तराखंड ने 514 ग्रामीण परिवारों तक नल कनेक्शन देकर पानी की सप्लाई शुरू की। हिमाचल प्रदेश, बिहार, गुजरात, पंजाब, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और सिक्किम में गांधी जयंती के दिन एक भी नल कनेक्शन नहीं हुए।

यूपी में बुलंदशहर शीर्ष पर

उत्तर प्रदेश में 20 दिन में दूसरी बार नंबर एक बनाए जाने वाले जिलों में बुलंदशहर शीर्ष पर रहा। यहां गांधी जयंती पर 7506 ग्रामीण परिवारों को नल से जल की सुविधा दी गई। शाहजहांपुर में 6418, मिर्जापुर में 6054, वाराणसी में 5047 और गोरखपुर में 4012 परिवारों को नल कनेक्शन देकर शुद्ध पेयजल पहुंचाया गया। इसके बाद बरेली में 3681, सीतापुर में 2857, देवरिया में 2516, मेरठ में 2356, हरदोई में 2158, गोंडा में 2488 और श्रावस्ती में 2023 नल कनेक्शन देकर यूपी को देश भर में दूसरी बार एक लाख से अधिक नल कनेक्शन सिर्फ एक दिन देकर नंबर एक पर पहुंचाया।

उत्तर प्रदेश में अभी तक नमामि गंगे और ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की ओर से 48 लाख 43 हजार 733 घरों तक नल कनेक्शन देकर शुद्ध पेयजल पहुंचाया जा चुका है। ओडिशा 46 लाख 51 हजार 759, केरल 30 लाख 57 हजार 249, राजस्थान 29 लाख 28 हजार 134, असम 25 लाख 622, अरुणाचल प्रदेश 15 लाख तीन हजार 09, झारखंड 14 लाख 39 हजार 77, उत्तराखंड नौ लाख 92 हजार 206, त्रिपुरा चार लाख दो हजार 413, मणिपुर तीन लाख 34 हजार 864, मेघालय में दो 57 हजार 794 घरों तक नल से शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की जा रही है।

प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर भी सूबे में दिए गए थे एक लाख से अधिक कनेक्शन

इससे पहले 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पर भी नमामि गंगे और ग्रामीण जलापूर्ति विभाग ने यूपी में एक लाख 20 हजार 821 कनेक्शन देकर देश में रिकॉर्ड स्थापित किया था। उत्तर प्रदेश ने गांधी जयंती पर प्रदेश में 75 हजार नल कनेक्शन दिये जाने का लक्ष्य रखा था। नमामि गंगे और ग्रामीण जलापूर्ति विभाग ने युद्ध स्तर पर काम को पूरा करते हुए गांधी जयंती के दिन एक लाख सात हजार 774 गरीब परिवारों को नल से जल देने का काम पूरा किया है।

दिलीप शुक्ल/दधिबल

error: Content is protected !!