खाद्य व्यापारियों को दी गयी खाद्य सुरक्षा की जानकारी

संवाददाता
बलरामपुर। भारतीय खाद्य संरक्षा पर्यावरण द्वारा जनपद के खाद्य व्यवसायियों को कलेक्ट्रेट सभागार में अपर जिलाधिकारी अरुण कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में प्रशिक्षण दिया गया। उन्हांेने कहा कि जनपद में बहुत से खाद्य व्यवसायी अज्ञानता वश एवं आवश्यक बिल, कैश मेमो की अनुपलब्धता में अनेक मुकदमों में फंसते है। इस हेतु जनपद के खाद्य व्यवसायियों को खाद्य सुरक्षा मानकों एवं नियमों की जानकारी देना आवश्यक है। उन्होंने जपपद के खाद्य व्यवसायियों से अनुरोध किया कि वे सभी ट्रेनिंग में प्रतिभाग कर खाद्य सुरक्षा से संबन्धित जानकारी प्राप्त करें और इसका अपने दैनिक क्रिया में भी शामिल करें एवं अन्य आस-पास के छोटे व्यवसायियों को इसके बारे में प्रेरित करें।
मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी विनोद कुमार पाण्डेय द्वारा सभी व्यवसायियों का स्वागत किया गया और आशा व्यक्त की कि मास्टर ट्रेनरों द्वारा दी जाने वाले फास्ट्रेक ट्रेनिंग से जनपद के खाद्य व्यवसायी अवश्य लाभान्वित होंगें। यह ट्रेनिंग सभी खाद्य व्यवसायियों को प्रदान की जायेगी। यदिवे प्रशिक्षण नहीं प्राप्त करते है, तो उनके पंजीकरणध्लाइसेन्स जारी करने रिनीवल में समस्या उत्पन्न हो सकती है। मास्टर ट्रेनर पीसी शर्मा द्वारा खाद्य पदार्थों के रखरखाव, उनके उपयोग, विनिमयन, बायोलाॅजिकल प्रदूषण आदि की जानकारी खाद्य व्यवसायियों एवं उपस्थित अधिकारियों कर्मचारियों को दी गयी। प्रशिक्षण में जनपद के खाद्य व्यवसायी प्रीतम सिन्धी, नितिन, सुबोध सिंह, अरविन्द गुप्ता, शियाराम आदि ने प्रतिभाग किया। इस दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी वागीश मणि तिवारी, कमलरावत, सत्यवीर सिंह एवं लालमणि यादव भी ट्रेनिंग में शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *