कोरोना का खतरा बढ़ा, कमजोर इम्युनिटी वाले हो जाएं सतर्क

प्रादेशिक डेस्क

गोरखपुर। देश में कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों पर फिर से कोरोना संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है। कोरोना की तीसरी लहर में कमजोर इम्युनिटी (प्रतिरोधक क्षमता) वाले लोगों में संक्रमण का खतरा ज्यादा हो सकता है। इसके मद्देनजर गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग ने काम करना शुरू कर दिया है। विभागाध्यक्ष डॉ. अमरेश सिंह का कहना है कि कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले 90 फीसदी लोगों की इम्युनिटी कमजोर हो गई है। लिहाजा, संक्रमण का खतरा ज्यादा है। अगस्त-सितंबर तक तीसरी लहर आ सकती है। अब जरूरत सतर्कता बरतने की है। जानकारी के मुताबिक कोरोना संक्रमण के बाद तीन माह तक शरीर में हर्ड इम्युनिटी बनी रहती है। इसके बाद इम्युनिटी का असर कम हो जाता है। कमजोर इम्युनिटी में ही कोरोना वायरस घातक होता है। गोरखपुर में कोरोना के डेल्टा, डेल्टा पल्स व कप्पा स्वरूप ने अप्रैल व मई में तबाही मचाई थी।

यह भी पढ़ें :  देश के टाप टेन IAS अफसरों में चुने गए गोण्डा के संतोष मिश्रा

आवश्यकता है संवाददाताओं की

तेजी से उभरते न्यूज पोर्टल www.hindustandailynews.com को गोण्डा जिले के सभी विकास खण्डों व समाचार की दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थानों तथा देवीपाटन, अयोध्या, बस्ती तथा लखनऊ मण्डलों के अन्तर्गत आने वाले जनपद मुख्यालयों पर युवा व उत्साही संवाददाताओं की आवश्यकता है। मोबाइल अथवा कम्प्यूटर पर हिन्दी टाइपिंग का ज्ञान होना आवश्यक है। इच्छुक युवक युवतियां अपना बायोडाटा निम्न पते पर भेजें : jsdwivedi68@gmail.com
जानकी शरण द्विवेदी
सम्पादक
मोबाइल – 9452137310

error: Content is protected !!