कमजोर हो चुकी किले की बाहरी बाउंडरी वाल का नव निर्माण कराने की मांग

झांसी (हि.स.)। बुन्देलखण्ड निर्माण मोर्चा के अध्यक्ष भानू सहाय के नेतृत्व में जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें कमजोर हो चुकी किले की बाहरी बाउंडरीवाल का नव निर्माण शीघ्र कराये जाने की मांग गई।

ज्ञापन के माध्यम से बताया गया कि पचकुइयां तिराहे की ओर गिरी महारानी लक्ष्मीबाई किले की बाहरी बाउंडरी वाल के समीप माह अक्टूबर 21 से लगातार कभी मालवा हटाने के लिए, कभी पहाड़ी को खोदने और कभी भारी मशीन से बोरिंग करने के लिए लगातार मशीनों का प्रयोग हो रहा है। मशीनों के कारण किले की बाहरी बाउंडरी वाल कमजोर हो गई है। अभी हाल ही में किले की बाउंडरी के गिरने से किसी भी प्रकार की जान व माल की हानि नहीं हुई, पर आगे के लिए सतर्कता बरतने की आवश्यकता है।

उन्होंने बताया कि 7 सितम्बर 2021 को झांसी जिलाधिकारी, सी.ई.ओ. स्मार्ट सिटी एवं पुरातत्व विभाग के दिल्ली के अधिकारियों के बीच बैठकों का दौर चला। बैठक के डिस्कशन नोट में झांसी किले की बाहरी बाउंडरी वाल को छोटा कर उस पर ग्रिल लगाकर बाहर से किला भली प्रकार दिखाई दे ऐसी व्यवस्था हो सकेगी। डिस्कशन नोट में तो उक्त कार्य का जिक्र आया है पर डायरेक्टर मोनुमेंट्स दिल्ली की ओर से स्मार्ट सिटी झांसी को बाहरी बाउंडरी वाल की ऊंचाई छोटा करे जाने की अनुमति नहीं दी गई।

स्मार्ट सिटी की ओर से सांसद से भी अनुमति शीघ्र दिलवाने के लिए पत्र लिखा परन्तु अभी तक अनुमति नहीं मिली है। मांग की गई कि कमजोर हो चुकी किले की बाहरी बाउंडरी वाल के नव निर्माण के लिए प्रसाशनिक एवं जनप्रतिनिधियों को मिलकर गंभीर प्रयास किए जाये।

डायरेक्टर मोनुमेंट्स दिल्ली से अनुमति प्राप्त कर शीघ्र झांसी किले की बाहरी बाउंडरी वाल पर ग्रिल लगाकर बनवाई जाए। इस दौरान रघुराज शर्मा, कुंवर बहादुर आदिम, हनीफ खान, नरेश वर्मा, प्रदीप झा, विकास पूरी, अन्नू मिश्रा, कलाम कुरेशी, प्रभु कुशवाहा आदि शामिल रहे।

महेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!