कच्चा तेल 95 डॉलर प्रति बैरल के करीब, पेट्रोल-डीजल की कीमत घटने के आसार

नई दिल्ली (हि.स)। महंगाई की मार झेल रहे लोगों के लिए राहत देने वाली खबर है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (क्रूड ऑयल) की कीमत में लगातार गिरावट जारी है। मंगलवार को शुरुआती कारोबार में वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड की कीमत लुढ़ककर 88.93 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गई। वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट क्रूड (डब्ल्यूटीआई) 94.31 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है। ऐसे में पेट्रोल-डीजल की कीमत में कटौती के आसार हैं।

दरअसल चीन में आर्थिक गतिविधियों में सुस्ती की वजह से कच्चे तेल की कीमत में गिरावट का दौर जारी है। हालांकि, सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों ने घाटे के बावजूद 6 अप्रैल के बाद से पेट्रोल-डीजल के दाम नहीं बढ़ाए हैं। फिलहाल दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 96.72 रुपये प्रति लीटर और डीजल 89.62 रुपये प्रति लीटर है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत घटने से तेल कंपनियों के मार्जिन में सुधार होने की उम्मीद है। ऐसे में एक्सपर्ट का मानना है कि आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल के दाम में कटौती हो सकती है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव 95 डॉलर प्रति बैरल के नीचे आ गया है। रूस-यूक्रेन जंग की वजह से एक समय इसकी कीमत 139 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई थी। इस बढ़ोतरी के केंद्र सरकार ने 21 मई को पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में कटौती की थी। आज तड़के सुबह ब्रेंट क्रूड लुढ़कर 88.93 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया, जबकि वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट क्रूड (डब्ल्यूटीआई) 94.31 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था। ऐसे में देश में लंबे समय से महंगे पेट्रोल-डीजल की कीमतों में गिरावट आने की संभावना बढ़ी है। इससे महंगाई से जूझ रहे आम लोगों को राहत मिल सकती है।

प्रजेश शंकर/मुकुंद

error: Content is protected !!