एसटीएफ ने बस्ती से पीएफआई के ट्रेनिंग कमाण्डर मोहम्मद राशिद को किया गिरफ्तार

देश की अखण्डता और सामाजिक विद्वेष के साथ हिन्दू नेताओं पर हमले की थी तैयारी
बस्ती ( हिस)। गोरखपुर की एसटीएफ टीम ने रविवार को बस्ती रेलवे स्टेशन से सिद्धार्थनगर के शोहरतगढ़ निवासी राशिद अहमद को पकड़ा है। राशिद अहमद पर आरोप है कि वह पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के लिए काम करता है और ट्रेनिंग कमाण्डर की भूमिका निभाता है। उसके पास से जो दस्तावेज व साक्ष्य मिले हैं उससे यह पता चला है कि राशिद देश की अखण्डता और सामाजिक विद्वेष फैलाना चाहता है। इसके साथ अपने आतंकी साथियों के साथ हिन्दू संगठनों से जुड़े नेताओं पर हमला भी करने की फिराक में था। 
एसटीएफ प्रवक्ता ने बताया कि एसटीएफ को सूचना मिल रही थी कि पीएफआई के कुछ सदस्य आपराधिक षड़यन्त्र के तहत एक आंतकवादी गिरोह बनाकर निकट भविष्य में देश की एकता एवं अखण्डता को चुनौती देने जा रहे हैं। गिरोह के सदस्य देश की सरकार के विरुद्ध युद्ध छेड़ने तथा समाजिक विद्वेष फैलाने के उद्देश्य से घातक हथियारों एवं शरीरिक प्रशिक्षण दिलाकर उत्तर प्रदेश के कई महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील स्थानों पर दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम देना चाहते थे। इसके साथ ही प्रमुख हिन्दू संगठनों के बड़े पदाधिकारियों पर हमला करने की भी योजना थी।  इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए भारत के विभिन्न राज्यों में अपने सदस्य बनाकर उन्हें प्रशिक्षित कर रहे हैं। पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने बताया कि पकड़े गये युवक से पूछताछ की जा रही है और जो सूचनाएं मिल रही थी अगर वह सही पाया जाएगा तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल जो दस्तावेज उसके पास मिले हैं उससे काफी हद तक साफ है कि मिल रही सूचनाएं सही साबित होंगी। 

error: Content is protected !!