एयर इंडिया ने महिला और पुरुष क्रू मेंबर्स के लिए बनाई गाइडलाइंस

– महिला क्रू मेंबर्स के लिए बिंदी का साइज, चूड़ियों की संख्या, लिपस्टिक और नेल पेंट का कलर तय

– गंजेपन के शिकार पुरुष केबिन क्रू मेंबर्स को अपने बालों को क्लीन शेव करना होगा

नई दिल्ली (हि.स)। टाटा समूह एयर इंडिया एयरलाइन को फिर से दुनिया की बेहतरीन एयरलाइंस कंपनी बनाने की कवायद में लगा है। एयर इंडिया की कमान टाटा के हाथ में आने के बाद से इसमें कई बदलाव किए गए हैं। कंपनी ने अब महिला और पुरुष क्रू मेंबर्स के सजने-संवरने के लिए भी नई गाइडलाइंस जारी की है।

कंपनी की ओर से जारी नई गाइडलाइंस के मुताबिक महिला और पुरुष क्रू मेंबर्स को अब स्वयं को तैयार करना होगा। नई गाइडलाइंस के अनुसार महिला क्रू मेंबर्स के लिए बिंदी का साइज, चूड़ियों की संख्या और लिपस्टिक और नेल पेंट का कलर तक तय की गई है। इसी तरह किसी पुरुष केबिन क्रू मेंबर्स के बाल झड़ने या गंजापन की शिकायत है, तो उन्हें अपने बालों को क्लीन शेव करना होगा।

एयर इंडिया की नई गाइडलाइन में कर्मचारियों से ऑफ ड्यूटी कंपनी की यूनिफॉर्म और एक्सेसरीज न पहनने की सलाह दी गई है। एयर इंडिया ने अब हेयर जेल लगाना अनिवार्य कर दिया है। पुरुष केबिन क्रू मेंबर्स को क्रू कट कराने की इजाजत भी नहीं है। इसके अलावा गर्दन, कलाई और टखने पर किसी भी तरह का धार्मिक चिन्हृ गुदवाने की अनुमति नहीं होगी।

टाटा समूह ने इस साल घाटे में चल रही एयर इंडिया एयरलाइन कंपनी को 18 हजार करोड़ रुपये में खरीदने के बाद नियंत्रण हासिल किया था। टाटा समूह वाली एयर इंडिया का पुनरुद्धार करने के लिए ‘विहान डॉट एआई’ योजना इससे पहले लागू किया गया था। टाटा समूह एयर इंडिया के अधिग्रहण के बाद से इसको सबसे बड़ी एवं बेहतरीन एयरलाइंस बनाने की कवायद में जुटी है।

प्रजेश/सुनीत

error: Content is protected !!