उप्र में सपा नेता व करीबियों के ठिकानों पर आयकर की कार्रवाई चौथे दिन भी जारी

– करोड़ों रुपये और कई दस्तावेज हाथ लगे, सीए दिनेश सेठी के दिल्ली में होने की सूचना

लखनऊ (हि.स.)। समाजवादी पार्टी (सपा) के पूर्व एमएलसी श्याम सुंदर यादव और उनके करीबियों के कई ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी की कार्रवाई चौथे दिन यानि की शनिवार को भी जारी है। सूत्रों की माने तो, छापेमारी में करोड़ाें रुपये मिलने की बात सामने आ रही है। हालांकि इस कार्रवाई के बारे में आयकर विभाग ने अभी कोई जानकारी नहीं दी है। जिस चार्टेड अकाउंटेंट की आयकर को तलाश है वो दिल्ली के एक अस्पताल में अपना इलाज करा रहा है।

बीते बुधवार तड़के आयकर विभाग की टीम ने उप्र के झांसी में घनाराम इंफ्रास्ट्रक्चर के मालिक श्याम सुंदर यादव, उनके भाई विशन सिंह यादव और अन्य लोगों के यहां छापेमारी शुरू की, जो आज भी जारी है। जिन लोगों के खिलाफ कार्रवाई हुई है उनमें बसेरा बिल्डर्स के मालिक सिविल लाइंस निवासी वीरेंद्र राय भी हैं, जो कई होटल, स्कूल और मॉल्स भी संचालित करते हैं। इसके अलावा जानकीपुरम कॉलोनी निवासी विजय सरावगी, दिनेश सेठी, राकेश बघेल, संजय अरोरा, आनंद अग्रवाल, शिवा सोनी बिल्डर्स के ठिकानों पर छापेमारी जारी है। सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग ने लखनऊ में दो, झांसी में आठ और कानपुर में छह ठिकानों पर कार्रवाई की।

कानपुर के कल्याणपुर के नवशील धाम में आयकर विभाग की टीम ने कारोबारी राकेश यादव के घर पर भी छापेमारी की कार्रवाई जारी है। राकेश यादव की विशन सिंह यादव से व्यापारिक दोस्ती की बात सामने आ रही है। इसी वजह से यहां पर कार्रवाई की गयी, जो अभी भी चल रही है।

आयकर विभाग ने कारोबारियों समेत उनके मिलने वालों के भी एकाउंट खंगाल रही है। कई लॉकर सील किए गए हैं। ऐसे छह से अधिक निजी बैंकों में करीब तीन दर्जन एकाउंट की जांच की गई। तमाम एकाउंट में लेनदेन की अनियमितता भी पाई गई। अब कई दिनों की आयकर जांच में कई नाम खुलकर सामने आ रहे हैं। कारोबारियों से जुड़े चार्टेड एकाउंटेंट (सीए) दिनेश सेठी का नाम भी सामने आया है।

आयकर की टीम ने उसके घर पर भी छापा मारा तो पता चला कि जिस दिन यह कार्रवाई शुरु हुई वह सुबह टहलने निकले थे और वापस घर नहीं लौटे। इसके बाद आयकर अधिकारियों ने मुख्यालय से बात कर सीए के घर ताले तोड़कर जांच शुरू की। वहीं, कई दिनों की खोजबीन के बाद टीम को पता चला है कि सीए सेठी दिल्ली के एक अस्पताल में अपना इलाज करा रहा है। हालांकि छापेमारी की इस कार्रवाई को लेकर क्या-क्या तथ्य निकल कर सामने आए हैं इसकी किसी प्रकार की पुष्टि अधिकारियों द्वारा नहीं की गई है।

दीपक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!