उप्र में देश की अर्थव्यवस्था का ग्रोथ इंजन बनने का सामर्थ्य : योगी आदित्यनाथ

-प्रबुद्धजन को संबोधित करते हुए बोले मुख्यमंत्री योगी

मेरठ(हि.स.)। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में देश की अर्थव्यवस्था का ग्रोथ इंजन बनने का सामर्थ्य है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की अर्थव्यवस्था को पांच ट्रिलियन डॉलर करने का संकल्प लिया है तो हमें उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर बनाना होगा। अच्छा निवेश, सुरक्षा, कनेक्टिविटी, ईज ऑफ डूइंग से इस दिशा में आगे बढ़ा जा रहा है। मेरठ के आसपास विश्वस्तरीय सुविधाएं विकसित हो रही हैं। उन्होंने मेरठ के उद्यमियों, व्यापारियों और प्रबुद्ध जन से आह्वान किया है कि स्थानीय स्तर की सरकारों के लिए भी एक तैयारी की जाए।

विक्टोरिया पार्क में बुधवार को आयोजित प्रबुद्ध जनसभा में मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि मेरठ की अपनी ऐतिहासिक एवं पौराणिक पहचान है। मेरठ के हस्तिनापुर में ही भारत का इतिहास रचा गया। आजादी की लड़ाई के दौरान भारत के इतिहास को बनाने वाली भूमि है। अपने स्किल के रूप में अपनी पहचान दिलाने वाली धरती है। मेरठ के हस्तशिल्पी और कारीगरों ने स्पोर्ट्स सिटी के रूप में मेरठ को विकसित कर दिया है। उन्होंने कहा कि आज मेरठ विकास की नई दौड़ के साथ आगे बढ़ रहा है। मेरठ के आसपास के लोगों को विकास की विश्वस्तरीय सुविधाएं मिल रही हैं। पांच साल पहले मेरठ से दिल्ली जाने में तीन से चार घंटे लगते थे, अब 45 मिनट में जा सकते हैं। मेरठ से दिल्ली की दूरी तो कम हो गई, अब मेरठ से लखनऊ की दूरी को कम करने के लिए गंगा एक्सप्रेस वे बनाया जा रहा है। मेरठ से लखनऊ साढ़े चार घंटे में जाया जा सकेगा।

अच्छी सरकारें अपने साथ लाती है विकास

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की पहली रैपिड रेल भी दिल्ली-मेरठ के बीच बन रही है। अच्छी सरकारें आती हैं तो अपने साथ विकास भी लेकर लाती हैं। मेरठ स्पोर्ट्स आइटम के लिए चिन्हित करके प्रमोट करके कार्यक्रमों को आगे बढ़़ाया जा रहा है। आज प्रदेश और देश जिस रोजगार और स्किल डवलपमेंट के लिए जाना जा रहा है। दुनिया में उसकी धमक सुनाई दे रही है। इसकी पहली शर्त है अखिल भारतीय स्तर पर आतंकवाद और किसी भी प्रकार की अराजकता को पूरी तरह समाप्त करना। सरकार आज उप्र में कानून व्यवस्था का बेहतर माहौल दे रही है। पहले व्यापारियों और उद्यमियों को गुंडा टैक्स देना पड़ता था। अपराधियों को कानून के खिलाफ किसी भी प्रकार की हरकत करने पर जान के लाले पड़ेंगे। आज अपराधियों को गले में तख्ती लटका कर घूमते देखा जा सकता है।

निवेश और रोजगार की पहली शर्त सुरक्षा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि निवेश और रोजगार की पहली शर्त सुरक्षा होता है। मेरठ भी स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित हो रहा है। आईटीएमएस को हम सेफ सिटी के रूप में जोड़ रहे हैं। इस सिस्टम में किसी ने सुरक्षा पर सेंध लगाने का दुस्साहस किया तो अगले चौराहे पर पुलिस उसे ढेर कर चुकी है। आगे कोई दुस्साहस नहीं कर सकेंगे। निवेश का अच्छा वातावरण प्रदेश में बना है।

लोगों से किया इन्वेस्टर्स समिट में भाग लेने का आह्वान

मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 से 12 फरवरी तक उप्र में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया है। इस समिट में हर व्यक्ति को इन्सेंटिव लेने की आवश्यकता है। आवेदन करते ही 340 से अधिक एनओसी मिल जाएगी। ऑटोमोड पर कार्य होगा। इन्सेंटिव भी खाते में ही आता जाएगा। इसका मैकेनिज्म भी तैयार किया जा चुका है।

स्थानीय निकाय में प्रबुद्धों से मांगा समर्थन

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थानीय निकाय के प्रबुद्ध जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुंचाने में मदद करें। पिछली बार नगर निकाय में अगर भाजपा का बोर्ड होता तो नगर निगम मेरठ की कायाकल्प करने में मदद मिलती। सरकार केवल पैसा दे सकती है लेकिन उसे ईमानदारी से धरातल पर पहुंचाने में स्थानीय बोर्ड का योगदान होता है। प्रदेश तीव्रता के साथ विकास कार्यक्रमों को आगे बढ़ा रहा है।

इस अवसर पर अमित अग्रवाल, सरोजिनी अग्रवाल, धर्मेंद्र भारद्वाज, श्रीचंद शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी, क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल, सांसद राजेंद्र अग्रवाल, सांसद डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी, जिलाध्यक्ष विमल शर्मा, महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, करुणेश नंदन गर्ग, विवेक रस्तोगी, गजेंद्र शर्मा, सरबजीत कपूर आदि उपस्थित रहे।

कुलदीप/दिलीप

error: Content is protected !!