आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर अगस्त में 3.3 फीसदी की सुस्त रफ्तार से बढ़ी

नई दिल्ली (हि.स)। अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर सरकार को झटका लगने वाली खबर है। देश के आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर अगस्त में 3.3 फीसदी की सुस्त रफ्तार से बढ़ी है। जुलाई महीने में यह दर 4.5 फीसदी रही थी।

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक आठ बुनियादी उद्योगों के उत्पादन की रफ़्तार सुस्त पड़कर अगस्त में 3.3 फीसदी की दर से बढ़ी है। आठ बुनियादी उद्योगों के उत्पादन की यह वृद्धि दर पिछले नौ महीने में सबसे कम है। एक साल पहले इसी अवधि में यह आंकड़ा 12.2 फीसदी रहा था। इससे पहले आठ बुनियादी उद्योगों के उत्पादन का सबसे निचला स्तर नवंबर, 2021 में 3.2 फीसदी रहा था।

आंकड़ों के मुताबिक देश के आठ बुनियादी उद्योगों में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली शामिल हैं। इन आठ बुनियादी उद्योगों का उत्पादन इस साल अप्रैल से अगस्त के बीच 9.8 फीसदी बढ़ा है, जो एक साल पहले इसी अवधि में 19.4 फीसदी था। औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में इन आठ बुनियादी उद्योगों की हिस्सेदारी 40.27 फीसदी है।

प्रजेश/सुनीत

error: Content is protected !!